.

बीमा क्या है और यह कितने प्रकार का होता होता है || जानिए पूरी जानकारी वो भी हिंदी में।

Insurance kya hai (बीमा क्या है ?)

अक्सर आपने बिमा शब्द सुना होगा। आज बीमा हर किसी के लिए महत्वपूर्ण है। आज आप कोई वाहन खरीदने जाते है या किसी बैंक में खाता खुलवाने जाते है तो आपको वहां एक कॉमन शब्द बीमा (Insurance) सुनने को मिलता है ,और वहां आपको इन्शुरन्स कराना जरुरी भी होता है। 
इन्शुरेंस क्या है
और अभी के समय में आपको बीमा की कराना बहुत जरुरी भी हो गया है क्यूंकि यदि आपके पास बीमा (Insurance) नहीं है और आप सड़क पर किसी वाहन को चलाते पकड़े जाते है तो आपको एक भारी चालान भी देना पड़ता है। इसकी इतनी जरूरत है तो हमे बीमा के बारे में जरूर जानना चाहिए तो चलिए जानते है की बीमा क्या है (what is insurance in hindi ).

    बीमा क्या है ?(insurance kya hai )

    यदि आम भाषा में कहे तो बीमा एक आर्थिक सुरक्षा कवच है। मतलब की यदि आप किसी कंपनी का बीमा करवाते है तो भविष्य में आपके ऊपर कोई संकट आता है और आपका कोई संसाधन या आप क्षतिग्रस्त हो जाते है तो आपके इलाज और और संसाधनों से हुई आर्थिक क्षति को पूर्ति करती है। लेकिन यदि आप केवल वस्तु का बीमा करवाते है तो आपको केवल वस्तु की नुकसान को ही इन्शुरन्स कंपनी पूरा करती है। 

    इसे भी पढ़े :-

    इन्शुरन्स क्या है  इसको समझने के लिए एक उदहारण लेते है ,मान लीजिये आपने एक बाइक खरीदी और आपने उसका इन्शुरन्स भी करवा लिया है। आपकी बाइक अच्छी खासी चल रही है। एक दिन आप किसी बाजार में जाते है और वहां आपकी बाइक चोरी हो जाती है। तब आपका इन्शुरन्स यहाँ काम आएगा। मतलब की वहां पर आपने जो इन्शुरन्स करवाया था वो कंपनी आपकी बाइक के पैसे को लौटाएगी। आपको कितना पैसा लौटाएगी ये आपके इन्शुरन्स पर निर्भर करता है। 

    या आपकी बाइक का कभी एक्सीडेंट हो जाता है तो आपके बाइक के रिपेयर में जो खर्च आएगा उसको आपकी बीमा कंपनी पे करेगी। और ठीक ऐसा ही हेल्थ इन्शुरन्स यानि की जीवन बीमा के साथ भी होता है यदि कोई व्यक्ति  बीमार होता है या किसी कारणवश उसकी डेथ हो जाती है तो उसको बिमा कंपनी मुआवजे के तौर पर कुछ पैसे देती है। या उसके इलाज में जो खर्च होता है उसको इन्शुरन्स कंपनी देती है।

    Insurance meaning in hindi 

    इन्शुरन्स का हिंदी मीनिंग बीमा होता है। वैसे इन्शुरन्स का मतलब है की आप किसी इन्शुरन्स कंपनी को एक निश्चित समय अवधी में एक निश्चित राशि जमा करते है ,और इसके बाद बदले में  वो बीमा (Insurance)कंपनी आपको आर्थिक सुरक्षा देती है। मतलब की यदि किसी प्राकृतिक आपदा जैसे भूकंप,बाढ़ ,आगजनी ,आदि के साथ साथ चोरी ,एक्सीडेंट ,मृत्यु आदि के समय आपको हुए आर्थिक नुकसान का भुगतान करती है।  

    बीमा(Insurance)कितने प्रकार के होते है ?

    बीमा (Insurance)मुख्य रूप से दो प्रकार के होते है जो निम्नलिखित है :-
    1. जीवन बीमा (Life Insurance)
    2. सामान्य बीमा (General Insurance)

    लाइफ इन्शुरन्स क्या है (life insurance kya hai)

    लाइफ इन्शुरन्स बीमा का एक प्रकार है जिसमे किसी व्यक्ति के जीवन का बीमा किया जाता है। मतलब की इसके अंतर्गत यदि किसी व्यक्ति के जीवन के साथ कोई दुर्घटना घटती है जैसे की उसका एक्सीडेंट हो जाता है ,किसी प्राकृतिक आपदा में वो घायल हो जाता है या वो अचानक से बीमार हो जाता है तो उसके इलाज में जो खर्च आता है उसे बीमा कंपनी पे करती है। यदि उसकी मृत्यु हो जाती है तो उसके निकटतम सम्बन्धी को मुआवजा देती है। 

    सामान्य बीमा क्या है ?(general insurance kya hai)

    सामान्य बीमा (general insurance) के अंतर्गत अन्य सभी वस्तुए आती है जिनकी बीमा किया जा सकता हैं। जैसे moter insurance,हाउस इन्शुरन्स ,फसल इन्शुरन्स ,हेल्थ इन्शुरन्स आदि। तो चलिए इन सब बीमा के बारे में सॉर्ट में जानते है की मोटर इन्शुरन्स क्या है ?,हाउस इन्शुरन्स क्या है ?और फसल इन्शुरन्स क्या है ?

    मोटर इन्शुरन्स क्या है ?

    मोटर इन्शुरन्स के अंतर्गत यदि आपने अपनी वाहन का इन्शुरन्स करवाते है तो आपको कई तरह की सुबिधाये दी जाती है। जैसे की यदि आपकी वाहन का एक्सीडेंट हो जाता है तो इन्शुरन्स कंपनी आपके वाहन के रिपेयर का खर्च देती है। और यदि आपकी वाहन चोरी हो जाती है तो आपको बीमा कंपनी की तरफ से एक निश्चित रकम दिया जाता है जो आपके इन्शुरन्स प्लान पर निर्भर करता है। 

    हाउस इन्शुरन्स क्या है ?

    यदि आप अपने घर का इन्शुरन्स करवाते है और आपका घर किसी प्राकृतिक आपदा जैसे बाढ़ ,भूकंप ,आंधी-तूफ़ान ,आगजनी या दंगा फसाद की वजह से क्षतिग्रस्त होता है तो सारा नुकसान का की भरपाई बीमा कंपनी करती है। अतः हाउस इन्शुरन्स से आपकी घर की सुरक्षा होती है और आपको आर्थिक तंगी का सामना भी नहीं करना पड़ता है। 

    फसल इन्शुरन्स क्या है ?

    फसल इन्शुरन्स पॉलिसी के अनुसार आपके फसल को किसी  प्रकार का नुकसान होता है तो बिमा कंपनी आपको मुआवजा देगी। लेकिन इसमें कुछ स्थिति है। जैसे की यदि आपकी फसल आग ,बाढ़ ,आंधी तूफ़ान या किसी  प्राकृतिक आपदा से बर्बाद होती है तो आपको मुआवजा दिया जायेगा। लेकिन फसल बीमा कम्पनियाँ की पॉलिसी कड़ी होने के कारन अधिकतर किसानो को मुआवजा नहीं मिल पाता है जिससे फसल इन्शुरन्स के लिए किसान जागरूक नहीं है। 

    यात्रा बीमा क्या है ?

    यात्रा बीमा पॉलिसी के अनुसार यदि आप कही भ्रमण पर जाते है और आपको कही चोट लग जाती है या आपका कोई सामान खो जाता है तो यात्रा बिमा कंपनी आपको हर्जाना देती है। लेकिन यात्रा बीमा केवल आपके यात्रा शुरू होने से समाप्त होने तक ही वैलिड होता है। पर अलग-अलग यात्रा बीमा कंपनियों की पॉलिसी अलग अलग होती है। मतलब की यात्रा बिमा का उद्देश्य आपको यात्रा के दौरान होनेवाले नुक्सान से बचाना है। 

    इसे भी पढ़े :-

    इस पोस्ट में हमने जाना की इन्शुरन्स क्या होता है यह कितने प्रकार के होते है ?इन्सुरेंस का हिंदी मीनिंग क्या होता है और भी ढेर सारी जानकारिया हासिल की।  जैसे की यात्रा बीमा क्या है ,लाइफ इन्शुरन्स क्या है ,फसल इन्शुरन्स क्या है ,मोटर इन्शुरन्स क्या है ,हाउस इन्शुरन्स क्या है आदि 

    इस आर्टिकल में हमने कोशिश किया है की आपके इन्शुरन्स से संबंधित सारे डाउट क्लियर हो जाये। और आशा करता हु की आपके आपके प्रश्नो का हल मिल गया होगा। हमने इसमें एक सामान्य भाषा में सबकुछ समझाने की कोशिश की है ,यदि फिर भी आपका कोई प्रश्न है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है। हम आपके सवालो का जवाब बहुत जल्द देंगे। 

    Post a Comment

    और नया पुराने